क्रेडिट कार्ड कैसे बनवायें?

Credit Card Kaise Banwaye: क्रेडिट कार्ड अप्लाई करने से पहले आपको इन बातों का ज्ञान होना आवश्यक हैं जैसे की क्रेडिट स्कोर, जरुरी दस्तावेज, उम्र, इनकम वगैरा तो चलिए जानते हैं क्रेडिट कार्ड क्या होता हैं , क्रेडिट कार्ड कैसे बनवायें?

क्रेडिट कार्ड क्या होता हैं? (Credit Card Ka Matlab)

क्रेडिट कार्ड एक तरह का ऋण (Loan) हैं, बैंक कुछ नियमों और शर्तों (Credit Card Terms and Conditions) और उसकी क्रेडिट हिस्ट्री (Credit History) के आधार पर ग्राहक को एक प्लास्टिक कार्ड देती हैं, जिसमें लिमिट के तौर पर कुछ रकम उधार दिया जाता हैं उसे क्रेडिट कार्ड कहते हैं|

क्रेडिट कार्ड का इस्तेमाल करके ग्राहक ऑनलाइन और ऑफलाइन शॉपिंग के साथ रिचार्ज, बिल का भुगतान, यात्रा टिकट, अंतर्राष्ट्रीय लेन-देन के लिए भी उपयोग कर सकते हैं |

क्रेडिट कार्ड लिमिट (Credit Card Limit) का इस्तेमाल करने के बाद आपको लगभग 20 – 50 दिनों में क्रेडिट कार्ड बिल का पुरे रकम भुगतान करना पड़ता हैं, अगर आप ऐसा नहीं करते तो बैंक द्वारा पेनाल्टी लगाया जाता हैं, आपका क्रेडिट स्कोर कम हो जाता हैं और इस वजह से आपको अन्य बैंकों के क्रेडिट कार्ड और किसी तरह का लोन लेने में समस्या होती हैं |

क्रेडिट कार्ड कैसे बनवायें?

और पढ़ें: सिबिल स्कोर (क्रेडिट स्कोर) सुधारने के 7 तरीके

दोस्तों ऑनलाइन क्रेडिट कार्ड अप्लाई (Online Credit Card Apply) से पहले मैं आपको क्रेडिट कार्ड के फायदे (Credit Card Ke Fayde) और नुकसान (Credit Card Ke Nuksan) के बारे में के बारे में जानकारी देना चाहता हूँ ताकि आपको सही निर्णय लेने में ज्यादा परेशानी न हो |

क्रेडिट कार्ड के फायदे (Credit Card Ke Fayde)

ऑनलाइन शॉपिंग कंपनियां जैसे अमेज़न, फ्लिकार्ट क्रेडिट कार्ड पर 10% तक कैशबैक देती हैं इसलिए “क्रेडिट कार्ड कैसे बनवायें?” इंटरनेट पर आजकल ज्यादा सर्च किया जा रहा है दोस्तों क्रेडिट कार्ड के फायदे तो बहुत है जैसे 30-50 दिनों तक बिना ब्याज आप खरीदी कर सकते हैं, क्रेडिट कार्ड के फायदे जैसे कैशबैक (Cashback), रिवॉर्ड पॉइंट्स (Reward Points), नो कॉस्ट ईएमआई (No Cost EMI), इत्यादि, तो चलिए जानते हैं क्रेडिट कार्ड के फायदे क्या क्या है?

1. बिना ब्याज क्रेडिट मिल जाता है (Credit Without Interest)

दोस्तों बैंक आपको क्रेडिट स्कोर और आपकी कमाई के आधार पर बिना ब्याज आपको क्रेडिट कार्ड में कुछ रकम प्रदान करती है जिसे क्रेडिट लिमिट कहते हैं क्रेडिट कार्ड से आप जो भी खरीदी करते है वह पूरी रकम आपको 50 दिनों के भीतर क्रेडिट कार्ड बिल का भुगतान करने जमा करना होता है, भुगतान करने के बाद क्रेडिट लिमिट से आप दुबारा खरीदी कर सकते हैं |

2. यूटिलिटी बिल का समय पर भुगतान कर सकते हैं (Pay Utility Bills On Time)

Utility Bills Payment जैसे बिजली बिल (Electricity Bill Pay), टेलीफोन बिल, गैस बिल का भुगतान आप समय पर कर सकते हैं और किसी तरह का कोई चार्ज भी देना नहीं पड़ता हैं|

3. ऑनलाइन खरीदी पर कैशबैक मिलता है (Cashback on Purchase Online)

फ्लिपकार्ट और अमेज़न पर क्रेडिट कार्ड से ऑनलाइन खरीदी पर आकर्षक कैशबैक मिलता है, Flash Sale के दौरान कंपनियां SBI, HDFC, Axis Bank, ICICI बैंको के क्रेडिट कार्ड से खरीदी करने पर 10% तक कैशबैक देती हैं जिसका लाभ ले सकते हैं |

4. रिवॉर्ड पॉइंट्स को रिडीम कर सकते हैं (Redeem Reward Points)

दोस्तों क्रेडिट कार्ड से खरीदी पर बैंक कुछ रिवार्ड्स पॉइंट्स निर्धारित करती हैं और एक रिवॉर्ड पॉइंट का मूल्य 25 पैसे होता है जैसे की 100 रुपये की खरीदी पर 4 रिवॉर्ड पॉइंट्स तो ऐसे ही आपकी खरीदी पर जो रिवॉर्ड पॉइंट्स जमा होते हैं वो बैंक कि आधिकारिक वेबसाइट या फिर ग्राहक सेवा केंद्र में संपर्क करके पॉइंट्स रिडीम कर सकते हैं, रिवॉर्ड पॉइंट से नकद, गिफ्ट कार्ड, रिचार्ज, या बैंक कि वेबसाइट पर कुछ सामान भी खरीद सकते हैं|

क्रेडिट कार्ड एप्प द्वारा आप अपने कार्ड पर डोमेस्टिक और इंटरनेशनल ट्रांसक्शन को लॉक कर सकते हैं जिससे धोखाधड़ी कि समस्या बहुत कम हो सकती है |

क्रेडिट कार्ड से नुकसान (Credit Card Se Nuksan)

क्रेडिट कार्ड का इस्तेमाल अगर आप बिना किसी लापरवाही और सुरक्षित ढंग से करते हैं तो आपको कोई नुकसान नहीं होता, क्रेडिट कार्ड से नुकसान यह है कि अगर आप समय पर भुगतान नहीं करते हैं तो आपको ब्याज और पेनाल्टी रकम भरना पड़ सकता हैं|

क्रेडिट कार्ड अतिरिक्त नुकसान यह है कि यदि आप कार्ड कि गोपनीय जानकारी जैसे कार्ड नंबर, एक्सपायरी डेट, सीवीवी, ओ टी पी किसी अन्य व्यक्ति तो बताते हैं तो आपके साथ धोखाधड़ी (Fraud) भी हो सकता है |

क्रेडिट कार्ड एप्प द्वारा आप अपने कार्ड पर डोमेस्टिक और इंटरनेशनल ट्रांसक्शन को लॉक कर सकते हैं जिससे धोखाधड़ी कि समस्या बहुत कम हो सकती है |

क्रेडिट स्कोर पर प्रभाव पड़ता हैं (Effects on Credit Score)

अगर आप क्रेडिट कार्ड को एक अनुशासित ढंग से उपयोग करते हैं तो आपके क्रेडिट स्कोर पर सकारात्मक प्रभाव पड़ता हैं और अगर आप लापरवाही करते हैं जैसे क्रेडिट कार्ड बिल का भुगतान समय पर नहीं करते हैं, लिमिट से ज्यादा रकम का इस्तेमाल करते हैं तो आपके क्रेडिट स्कोर पर नकारात्मक प्रभाव पड़ता हैं|

क्रेडिट कार्ड कैसे बनवायें? (Credit Card Kaise Banaye)

दोस्तों, क्रेडिट कार्ड कैसे बनता हैं (Credit Card Kaise Banta Hai) क्रेडिट कार्ड के लिए ऑनलाइन अप्लाई कैसे करें (Online Credit Card apply), क्रेडिट कार्ड बनवाने के लिए क्या डाक्यूमेंट्स (Document Required for Credit Card) देने होते हैं, और क्रेडिट कार्ड फॉर्म (Credit Card Form) कैसे भरें इस बारे में पूरी जानकारी मैं आपको यहाँ बताने वाला हूँ |

  • बैंक की साइट पर जाएं
  • क्रेडिट कार्ड पर क्लिक करें
  • व्यक्तिगत जानकारी (Personal Details) भरें जैसे नाम, मोबाइल नंबर, ईमेल आईडी
  • ओटीपी दर्ज करें
  • क्रेडिट कार्ड एप्लीकेशन फॉर्म को भरें
  • पैन कार्ड नंबर दर्ज करें
  • आधार कार्ड नंबर दर्ज करें
  • वर्तमान पता, कार्यालय का पता
  • कमाई का स्त्रोत (Income Source)
  • जरुरी दस्तावेज अपलोड करें
  • फॉर्म को सबमिट करें
  • बैंक द्वारा दी जानेवाली जानकारी को फॉलो करें

बैंक की गाइडलाइन्स के अनुसार आपकी प्रोफाइल क्रेडिट कार्ड के लिए सही हो जाती है तो कुछ ही दिनों में क्रेडिट कार्ड आपके घर पहुँच जायेगा |

तो दोस्तों आशा करता हूँ मेरे द्वारा दी गई जानकारी जैसे “क्रेडिट कार्ड कैसे बनवायें?” से आप संतुष्ट है या नहीं कमेंट में जरूर बताएं और अगर आपके मन में कोई सवाल या सुझाव है तो कमेंट बॉक्स में जरूर लिखें और इस पोस्ट को अपने दोस्तों और प्रियजनों के साथ शेयर करें |

Leave a Comment